दुनिया

UN में भारत ने PAK को किया बेनकाब, दिखाई आतंक की असली तस्वीर

UN में भारत ने PAK को किया बेनकाब, दिखाई आतंक की असली तस्वीर

lt;bgt;नई दिल्ली.lt;/bgt; यूनाइटेड नेशंस जनरल असेंबली (यूएनजीए)में फर्जी फोटो दिखाने वाले पाकिस्तान को भारत ने अगले दिन ही बेनकाब कर दिया। भारत ने कहा है कि पाकिस्तान इस फर्जी फोटो को दिखाकर यूएन में झूठी कहानी गढ़ने की कोशिश कर रहा था, लेकिन उसका असली चेहरा किसी से छिपा नहीं है। भारत ने सोमवार को लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की फोटो दुनिया को दिखाते हुए पाकिस्तान की हकीकत भी बताई। बता दें कि यूएन में पाकिस्तान की परमानेंट मेंबर मलीहा लोधी ने एक जख्मी लड़की की फोटो दिखाते हुए दावा किया था कि यह कश्मीर में पैलेट गन के हमले का शिकार हुई है, जबकि वह फोटो फलस्तीनी लड़की की थी। lt;bgt;पाक ने यूएन में किया था गुमराह...lt;/bgt; UN में फर्जी फोटो दिखाने वाले पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ झूठी कहानी गढ़ी - न्यूज एजेंसी के मुताबिक, राइट टू रिप्लाई के तहत यूएन में भारत के परमानेंट मिशन में सबसे जूनियर डिप्लोमैट पलोमी त्रिपाठी ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की परमानेंट रिप्रेजेंटेटिव (मलीहा लोधी) ने जनरल असेंबली को फर्जी फोटो दिखाकर गुमराह किया और भारत के खिलाफ झूठी कहानी गढ़ी। - उन्होंने यूएनजीए में लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की फोटो दिखाते हुए कहा कि यह फोटो उस आतंकवाद का दर्द को बयां करती है, जो पाकिस्तान भारत में फैला रहा है। यह फोटो पाकिस्तान के झूठ को बेनकाब करती है। - त्रिपाठी ने कहा कि कश्मीर के कुलगाम में उमर फैयाज को मई में एक शादी समारोह से अगवा कर लिया गया था। पाकिस्तान की ओर से भेजे गए आतंकियों ने उन्हें बुरी तरह टॉर्चर किया, फिर उनकी हत्या कर दी। - बता दें कि उमर फैयाज का क्षत-विक्षत शव घर से करीब 3 किमी दूर पड़ा पाया गया था। वे 2 राजपूताना राइफल्स में तैनात थे। lt;bgt;यह फोटो फर्जी नहीं हैlt;/bgt; - त्रिपाठी ने कहा कि उमर की यह असली फोटो है, फर्जी नहीं। यह असलियत बयां करती है। यह फोटो बताती है कि पाकिस्तान में पनप रहे आतंकवाद से भारत और खासतौर पर जम्मू-कश्मीर के लोग कितने परेशान हैं। - उन्होंने कहा कि यह असलियत है जिसे पाकिस्तान की परमानेंट मेंबर ने छिपाने की कोशिश की, लेकिन पाकिस्तान का असली चेहरा किसी से छिपा नहीं है। lt;bgt;आतंक का गढ़ बना पाकिस्तानlt;/bgt; - त्रिपाठी ने कहा कि लोधी ने अपने बयान से फिर उस हकीकत से ध्यान हटाने की कोशिश की है कि पाकिस्तान अब ग्लोबल टेररिज्म का गढ़ बन चुका है। - उन्होंने कहा कि फलस्तीनी लड़की की यह फोटो 22 जुलाई 2014 को अमेरिकी फोटोग्राफर हीदी लिवाइन ने ली थी। इसे न्यूयॉर्क टाइम्स में 24 मार्च 2015 को कनफ्लिक्ट, करेज और हीलिंग इन गाजा कैप्शन के साथ रिलीज किया गया। lt;bgt;PAK ने रविवार को UN में दिखाई थी फोटोlt;/bgt; - बता दें कि पाकिस्तान ने रविवार को जख्मी फलिस्तीनी लड़की की फोटो दिखाई थी और इसे कश्मीर में हो रहे जुल्म के तौर पर पेश किया था। बाद में हकीकत सामने आने के बाद पाकिस्तान की खूब किरकिरी हुई थी। - पाकिस्तान ने जो फोटो दिखाई थी वह गाजा वॉर में जख्मी हुई 17 साल की फलस्तीनी लड़की राव्या अबू जोमाआ की थी। 2014 में गाजा सिटी पर हुए इस्राइली हमले में उसका चेहरा बुरी तरह जख्मी हो गया था। lt;bgt;PAK ने फिर कहा- कश्मीरी हार नहीं मानेंगेlt;/bgt; - पाकिस्तान की ओर से यूएन में पाकिस्तान के परमानेंट मिशन के काउंसलर टीपू उस्मान ने कहा कि कश्मीरी आजादी चाहते हैं। वहां भारत जुल्म कर रहा है। वे हमेशा इसके खिलाफ लड़ते रहेंगे। गोली पर गोली और पैलेट पर पैलेट झेलते रहेंगे, लेकिन हार नहीं मानेंगे। lt;bgt;सुषमा स्पीच से तिलमिलाया है PAKlt;/bgt; - दरअसल, पाकिस्तान यूएनजीए में सुषमा स्वराज की स्पीच से तिलमिलाया हुआ है। - सुषमा ने अपनी स्पीच में कहा था, 70 वर्ष के दौरान अनेक दलों की सरकारें आईं, लेकिन हर सरकार ने विकास की गति को जारी रखा। सभापति जी, हमने IITs बनाए, IIMs बनाए, हमने एम्स जैसे अस्पताल बनाए, हमने अंतरिक्ष के क्षेत्र में विश्व प्रसिद्ध संस्थान बनाए... पर पाकिस्तान वालों आपने क्या बनाया? आपने लश्कर-ए-तैयबा बनाया, आपने जैश-ए-मोहम्मद बनाया, आपने हक्कानी नेटवर्क बनाया, आपने हिज्बुल मुजाहिदीन बनाया, आपने आतंकवादी ठिकाने बनाए, आपने टेररिस्ट कैम्प बनाए। हमने स्कॉलर्स पैदा किए, साइंटिस्ट पैदा किए, डॉक्टर्स पैदा किए। पाकिस्तान वालों आपने क्या पैदा किया? आपने दहशतगर्द पैदा किए, आपने जिहादी पैदा किए। आप जानते हैं कि डॉक्टर्स मरते हुए लोगों की जिंदगी बचाते हैं और जिहादी जिंदा लोगों को मार डालते हैं। आपका जिहादी संगठन केवल भारत के लोगों को नहीं मार रहा, वो हमारे पड़ोसी देश अफगानिस्तान और बांग्लादेश के लोगों को भी मार रहा है, वो भी उनकी गिरफ्त में हैं। सभापति जी UNGA के इतिहास में ये पहली बार हुआ कि किसी देश ने शाम को राइट टू रिप्लाई मांगा हो और एक साथ उसे तीन-तीन लोगों को स्पष्टीकरण देना पड़ा हो। ये अकेला तथ्य पाकिस्तान की करतूत को दर्शाता है। lt;a href='https://www.bhaskar.com/news/NAT-NAN-live-updates-sushma-swaraj-addresses-world-united-nations-pakistan-terrorism-5702673-PHO.html'gt;lt;bgt;(पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें)lt;/bgt;lt;/agt;