दुनिया

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह ने बहन को बनाया पोलित ब्यूरो मेंबर, ले सकेंगी अहम फैसले

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह ने बहन को बनाया पोलित ब्यूरो मेंबर, ले सकेंगी अहम फैसले

lt;bgt;इंटरनेशनल डेस्क. lt;/bgt;नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन ने अपनी छोटी बहन किम यो-जोंग को पोलित ब्यूरो का मेंबर बना दिया है। इस तरह किम यो-जोंग अब देश के अहम फैसले ले सकेंगी। नॉर्थ कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए ने एक रिपोर्ट में बताया- किम जोंग-उन ने अपनी बहन किम यो-जोंग को पावरफुल बॉडी पोलित ब्यूरो का ऑल्टरनेटिव मेंबर बनाया है। इसके चेयरमैन किम जोंग ही हैं। बताया जाता है कि यह फैसला शनिवार को लिया गया है। lt;bgt;भाई के साथ नजर आती रही हैं किम यो...lt;/bgt; - यो-जोंग का जन्म 26 सितंबर 1987 को हुआ। वे भाई किम जोंग से चार साल छोटी हैं और उनकी सबसे चहेती मानी जाती हैं। - मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भाई की तरह किम यो जोंग ने भी 1996 से 2000 तक नाम बदलकर स्विट्जरलैंड में पढ़ाई की थी। - बताया जाता है कि यो-जोंग ने अपनी ही पार्टी के सेक्रेटरी चोए योंग-हे के बेटे से शादी की थी। उनके पति की चार साल पहले एक एक्सीडेंट में मौत हो गई थी। - यो जोंग पहली बार सुर्खियों में तब आईं, जब वो 2012 में अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल हुईं। इसके बाद वो कई मौकों पर भाई के साथ नजर आईं। - यो किम जोंग उन की पॉलिटिकल एडवाइजर के तौर पर काम करने लगीं। बताया जाता है कि जोंग भी बहन से सलाह लेते रहे हैं। lt;bgt;विदेश में दूसरे नाम से की थी पढ़ाईlt;/bgt; - स्विट्जरलैंड के एक स्कूल में किम यो जोंग ने पढ़ाई की है। भाई की तरह यो ने भी दूसरे नाम से एडमिशन लिया था। स्कूल को यह बताया गया था कि ये किम जोंग के नौकर की बच्ची है। - यो ने सीनियर सेकंडरी उत्तर कोरिया में ही किया। इसके बाद वे किम इल सुंग मिलिट्री यूनिवर्सिटी में पढ़ीं। किम यो जोंग अंग्रेजी और जर्मन भी जानती हैं। - किम यो-जोंग पहली बार वे 2010 में पिता के साथ वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया के कन्वेंशन में दिखी थीं। इसके बाद तीन साल पहले पिता के अंतिम संस्कार पर। lt;bgt;क्या करती हैं यो-जोंग?lt;/bgt; - यो-जोंग को पिछले साल 7th कांग्रेस समिट में नॉर्थ कोरिया की सेंट्रल कमिटी में चुना गया था। - साउथ कोरियन न्यूजपेपर द चोशुन; के मुताबिक, यो-जोंग अपने भाई के लिए अप्वाईमेंट्स, प्रमोशन और प्रोपेगैंडा का काम देखती हैं। - बताया जाता है कि यो-जोंग ने ही अमेरिकन प्रोफेशन बास्केटबॉल प्लेयर डेनिस रोडमैन और अपने भाई के बीच दोस्ती कराई थी। रोडमैन नॉर्थ कोरिया के दौरे पर भी गए थे। - अब भी किम यो-जोंग कम ही मीडिया के सामने आती हैं, लेकिन नॉर्थ कोरिया में उनकी ही चलती है। बताया जाता है कि किम जोंग भी कोई फैसला लेने से पहले बहन से ही सलाह लेते हैं।