नजरिया

डेरिंग, डैशिंग और डायनेमिक मंत्रीजी चंद घंटों में ही पकड़ गए अरबों का घोटाला

डेरिंग, डैशिंग और डायनेमिक मंत्रीजी चंद घंटों में ही पकड़ गए अरबों का घोटाला

नई दिल्ली। 

ये कुछ भाजपाई विधायक विलक्षण प्रतिभा के धनी लगते हैं। 3-4 दिन पहले मंत्री बने और गजब की जनहित कार्यवाही कर डाली  यानी की बिलकुल बजर दबा और जबाब हाजिर वाला अंदाज। मसलन उपेंद्र तिवारी नामक बेनामी विधायक ने यूपी के वनमंत्री बनने के बाद एक डिपो का औचक निरीक्षण किया और चंद घंटो में ही जान गए और और घोषणा कर दी कि अरबों रुपए का घोटाला चल रहा था। बहुत पहले से चल रहा था, कोई 10-15 वर्षों से चल रहा था इत्यादि-इत्यादि और लगे हाथ डीएफओ सहित 4 अधिकारियों को तत्काल ही निलंबित भी कर दिया। 

इसी अदा को शत्रुघ्न सिन्हा ने कई बार डेरिंग, डैशिंग, डायनामिक कह कर संबोधित किया है। अब सवाल उठता है कि यूपी में भाजपा के 72 सांसद हैं, और केंद्र में भाजपा की ही सरकार है और पूरे 3 साल से बैठे ठाले ये 72 सांसद और कई लाख भाजपाई कार्यकर्ता थे और कुछ तो विधायक भी थे ही चाहे विपक्ष में सही तो ये सब मूढ़ थे, जो इनकी नाक के नीचे अरबों का घोटाला होता रहा और ये कुछ देख ना पाए तो क्या ऐसे सांसद निलंबित नहीं कर दिए जाने चाहिए? क्या ऐसे कार्यकर्ताओं में पार्टी में टिके रहने दिया जाना चाहिए या पार्टी छोड़ कहीं तड़ीपार होने का हुकुम सुना दिया जाए? क्या उस समय के भाजपाई विधायकों को फटकार नहीं लगनी चाहिए कि उनकी नाक के नीचे अरबों का घोटाला हुआ और वो क्या कर रहे थे?  

या फिर इसको ऐसे समझें की उधर समाजवादी जम के माल काट रहे थे और बाकी सब चुप थे और चुपचाप खाने दे रहे थे। या मिल बाँटकर खा रहे थे या फिर अनभिज्ञ थे या लल्लू थे या संलिप्त थे या सजग नहीं थे। अब क्या थे - अपने मुहँ से अपना बखान तो कोई करता नहीं, क्योंकि हर कोई रवींद्र गायकवाड़ तो होता नहीं है।

तो थोड़ी आगे की बात कर लें, ये निलंबन तक ही चलने वाला मामला निकलेगा या कि अरबों रूपए के घोटाले में कहीं कार्यवाही इतनी सख्त तो नहीं होगी कि इसी एक मामले में निकट भविष्य में 100-200 लोग जेल चले जाएंगे और 2-4 सौ करोड़ सरकारी खजाने में वापस आ जाएंगे? या फिर परवारे-परवारे कुछ-कुछ ऐसी सेटिंग हो जाएगी?

या ये कार्यवाई भी कुछ इसी तरह हो जायेगी कि अब नया गधा नया दाम - पहले वो लेते थे अब इधर ला। 

 

लेखक- नरेश गुप्ता


Tags:

  • Scam,
  • BJP,
  • Yogi Adityanath,
  • UP Government,
  • Upendra Tiwari,
  • Nazariya,
  • अरबों का घोटाला,
  • भाजपा,
  • यू पी सरकार,

कमेंट