नजरिया

बजट  कितने जुमले कितनी उम्मीदे

बजट कितने जुमले कितनी उम्मीदे

 2019 तक पक्के मकान..... उसके लिए कितनी जमीनें छीनी जायेंगी .... ?और फिर किन बिल्डर ग्रुप्स को उपकृत किया जाएगा। ..... ?आप तो कच्चे मकानों वालों की जमीन बक्श दो ... वो अपने कच्चे मकानों में ज्यादा खुश हाल रहेंगे.....
2019 तक पचास हज़ार पंचायतें गरीब मुक्त। ? पंचायते। ..... ? ये कौनसा पैंतरा है
.किसानों को दस लाख करोड़ का कर्ज........ आप तो पूंजी पतियों से कृषि उपज की कालाबाजारी रुकवा दो फिर आपकी भीख की जरूरत नहीं.......
सडक योजना में 8 लाख करोड़ खर्च करने का प्रस्ताव....... इसमें सड़क कितनी बनेगी... और डकारे कितने जायेंगे..... और फिर टोल के ठेके जिन्दगी भर के लिए किसको छूटेंगे??.... अँधा बांटे रेवड़ी फिर फिर अपनों को ही दे....... अब ये पहचान बाकी है की ये टोल की रेवड़ी किस-किस अपने को मिलेगी...


मनारेगा अरे .रे.रे.रे.रे. क्या गजब करते हो जी मनारेगा तो सिरे सी ही गलत है.... एक तो उसमे महात्मा गाँधी के नाम से शुरू हो रही योजना है.... दुसरे कांग्रेस की नाकामियों का ढोल है....... तो बजट आवंटन से पहले योजना का नाम तो बदलते..... मोदरेगा योजना या नारेंद्रगा योजना .... या कुछ और...... आखिर नाम बदलते ही योजना आयोग/नीति आयोग भी क्या धकापेल प्रगति कर रहा है....... या गुडगाँव गुरुग्राम बन ने के बाद कहाँ से कहाँ पहुँच गया है.


लेखक:- नरेश गुप्ता 
कार्टून :-BBC हिन्दी 

ये विचार लेखक के निजी विचार है 


Tags:

  • Union Budget 2017,
  • Arun Jaitley,
  • Income tax,
  • Budget2017InHindi,
  • Budget Announcements ,

कमेंट