खेल

बाउचर से सबा करीम तक, घातक चोट ने बर्बाद किया इन स्टार्स का करियर

बाउचर से सबा करीम तक, घातक चोट ने बर्बाद किया इन स्टार्स का करियर

lt;bgt;स्पोर्ट्स डेस्क.lt;/bgt; ICC ने एक बड़ा फैसला लेते हुए क्रिकेट में स्टम्प पर लगने वाली नॉर्मल बेल्स की जगह पर टीदर्ड (बंधी हुई बेल्स) के इस्तेमाल की इजाजत दे दी है। ICC ने ये फैसला खासतौर पर विकेटकीपर्स की सेफ्टी को देखते हुए लिया है। दरअसल क्रिकेट हिस्ट्री में ऐसी कई घटनाएं हो चुकी हैं, जब बेल्स लगने की वजह से विकेटकीपर्स की आंखों में चोट लग गई। इस फैसले के बाद साउथ अफ्रीका के पूर्व विकेटकीपर मार्क बाउचर ने बेहद खुशी जताई है। उनका करियर भी आंखों पर बेल्स लगने के बाद खत्म हो गया था।lt;bgt; यूं बर्बाद हुआ था बाउचर का करियर...lt;/bgt; - कभी दुनिया के सबसे बेहतरीन विकेटकीपर्स में से एक रहे मार्क बाउचर का करियर आंख में लगी चोट के बाद खत्म हो गया था। - 9 जुलाई, 2012 को समरसेट और साउथ अफ्रीका के बीच मैच हुआ था। इस मैच में इमरान ताहिर ने गेमल हुसैन को बोल्ड कर दिया। इस दौरान स्टम्प पर बॉल लगने के बाद बेल्स उछलकर विकेट के पीछे खड़े मार्क बाउचर की लेफ्ट आंख पर जा लगी। - उस वक्त फील्डिंग के दौरान मार्क बाउचर ने हेलमेट नहीं पहना था और वे विकेट से चिपककर खड़े हुए थे। इसी वजह से बेल्स की वजह से आंख को काफी नुकसान हुआ। - यह मैच मार्क बाउचर के करियर का आखिरी मैच साबित हुआ। इसके बाद उन्होंने क्रिकेट से रिटायरमेंट ले लिया। बाउचर ने अपने इंटरनेशनल करियर में विकेट के पीछे कुल 999 शिकार किए। उनके नाम पर टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा 532 कैच लेने का रिकॉर्ड भी है। lt;bgt;आगे की स्लाइड्स में देखें, स्पोर्ट्स वर्ल्ड के वो बाकी प्लेयर्स, जिनका करियर चोट की वजह से हुआ बर्बाद...lt;/bgt;