खेल

बदले नियम का पहला शिकार बना ये क्रिकेटर, छोटी सी बात पर लग गई पेनल्टी

बदले नियम का पहला शिकार बना ये क्रिकेटर, छोटी सी बात पर लग गई पेनल्टी

lt;bgt;स्पोर्ट्स डेस्क.lt;/bgt; क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था ICC ने हाल ही में क्रिकेट रूल्स में कुछ बदलाव किए थे। 28 सितंबर से लागू हुए इन बदलावों का असर अब क्रिकेट के मैदान पर भी दिखने लगा है। इसका सबसे पहला शिकार एक ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर बना है, जिसने वहां डोमेस्टिक मैच के दौरान फेक फील्डिंग करते हुए बैट्समैन को डराने की कोशिश की। जिसके बाद उस टीम पर 5 रन की पेनल्टी लगा दी गई। lt;bgt;इस तरह की थी फेक फील्डिंग...lt;/bgt; - ये इंसीडेंट ऑस्ट्रेलिया में हो रहे JLT वनडे कप क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान एक मैच में हुआ। जो कि क्वींसलैंड बुल्स और CA-XI टीम के बीच खेला गया। - इस मैच में क्वींसलैंड बुल्स की टीम के फील्डर मारनस लेब्यूशेग्न को नए नियमों के तहत गलत आचरण का दोषी पाया गया। - मैच के दौरान CA-XI टीम के बैट्समैन परम उप्पल ने मिड ऑफ की ओर एक शॉट खेला, जहां करीब ही मारनस फील्डिंग कर रहे थे, उन्होंने डाइव लगाकर बॉल को रोकने की कोशिश की, लेकिन बॉल उनके पास से निकल गई। - इसके बाद मारनस ने झूठी फील्डिंग (फेक फील्डिंग) करते हुए, थ्रो फेंकने का नाटक किया, जिससे दोनों बैट्समैन घबराते हुए क्रीज के अंदर चले गए। हालांकि असलियत में मारनस के पास बॉल थी ही नहीं। और बाद में बॉल को पीछे लॉन्ग ऑन की ओर जाते देखकर दोनों बैट्समैन ने तेजी से एक रन पूरा भी कर लिया। - इसके बाद मारनस ने अंपायर्स की ओर देखते हुए अपने हाथ ऊपर उठाते हुए गलती के लिए सॉरी भी कहा। लेकिन नए बदलावों को देखते हुए अंपायर्स ने आपस में बात करने के बाद फील्डिंग टीम पर 5 रन की पेनल्टी लगा दी और बैटिंग टीम को वे रन दे दिए। - इस मैच में CA-XI की टीम ने क्वींसलैंड की टीम को जीत के लिए 280 रन का टारगेट दिया था। जिसके बाद क्वींसलैंड ने मारनस की 61 रन की इनिंग की बदौलत ये मैच जीत लिया।