खेल

जूनियर लीग के नाम पर हो रहे T20 टूर्नामेंट से दूर रहे क्रिकेटर्स, BCCI की वॉर्निंग

जूनियर लीग के नाम पर हो रहे T20 टूर्नामेंट से दूर रहे क्रिकेटर्स, BCCI की वॉर्निंग

lt;bgt;स्पोर्ट्स डेस्क. lt;/bgt;भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने इंडियन क्रिकेटर्स को वॉर्निंग देते हुए साफ किया है कि बोर्ड का जूनियर लीग; के नाम पर हो रहे कई टी20 टूर्नामेंट से कोई वास्ता नहीं है। सोमवार को बीसीसीआई ने ये भी कहा कि ऐसी किसी भी लीग में हिस्सा लेने वाले प्लेयर्स के खिलाफ सख्त कार्रवाई भी की जाएगी। गौरतलब है कि इंडियन जूनियर प्लेयर्स लीग (IJPL), जूनियर इंडिया प्लेयर लीग (JIPL) और जूनियर इंडियन लीग (JIL) नाम से कई टी20 टूर्नामेंट हो रहे हैं। lt;bgt;फर्जी लीग से जुड़ चुका है गौतम गंभीर का भी नाम...lt;/bgt; - इंडियन जूनियर प्लेयर्स लीग नाम से टी20 टूर्नामेंट पिछले महीने 19 से 29 सितंबर तक दुबई में आयोजित किया गया था। - ऐसे टूर्नामेंट्स को बीसीसीआई ने स्वीकृति नहीं दी है। बोर्ड ने ये भी साफ किया किया कि गौतम गंभीर जैसे सीनियर प्लेयर्स खुद को इससे अलग कर चुके हैं। - बता दें कि 2016 में गंभीर ऐसे ही टूर्नामेंट से जुड़े थे और ब्रांड एंबेसडर बनकर इसे प्रमोट भी किया था। - बोर्ड ने कहा, जूनियर लीग के नाम से कोई भी मैच, कैम्प, टूर्नामेंट या सीरीज होती है तो इसका बीसीसीआई या इंडियन प्रीमियर लीग से कोई वास्ता नहीं है।; - साथ ही कोई भी खिलाड़ी जो बीसीसीआई के साथ रजिस्टर्ड है, जानबूझकर ऐसी लीग या टूर्नामेंट में हिस्सा लेता है या किसी भी तरह से इससे जुड़ता है, वो भी बिना बोर्ड की जानकारी के, तो इसे बीसीसीआई के नियमों का उल्लंघन माना जाएगा।; lt;bgt;गंभीर-धवन को लेकर कहा येlt;/bgt; बीसीसीआई ने ये भी कहा कि गौतम गंभीर और रिषी धवन जैसे इंडियन प्लेयर्स का इस अस्वीकृत लीग से अब नहीं जुड़े हैं। बोर्ड के अनुसार, प्लेयर्स जो पहले किसी भी तरह से ऐसी लीग से जुड़े थे, जैसे- गौतम गंभीर, पारस डोंगरा और रिषी धवन, ने लिखित में ये आश्वासन दिया है कि वो खुद को ऐसे टूर्नामेंट से अलग कर चुके हैं।