खेल

कभी बैंक में क्लर्क था ये क्रिकेटर, पाकिस्तान के खिलाफ किया बड़ा कारनामा

कभी बैंक में क्लर्क था ये क्रिकेटर, पाकिस्तान के खिलाफ किया बड़ा कारनामा

lt;bgt;स्पोर्ट्स डेस्क. lt;/bgt;श्रीलंका के लेफ्ट आर्म स्पिनर रंगना हेराथ ने पाकिस्तान के खिलाफ अबु धाबी में खेले गए पहले टेस्ट में 11 विकेट झटके थे। इसी के साथ उनके 400 टेस्ट विकेट पूरे हो गए। वे ये अचीवमेंट हासिल करने वाले दुनिया के पहले लेफ्ट आर्म स्पिनर हैं। इसके अलावा वे दुनिया के पहले बॉलर भी हैं, जो पाक के खिलाफ 100 से ज्यादा टेस्ट विकेट ले चुके हैं। lt;bgt;बैंक में कर चुके हैं नौकरी...lt;/bgt; - हेराथ का जन्म श्रीलंका के छोटे से गांव वादुवावा में 19 मार्च 1978 को हुआ था। वे दो भाइयों में छोटे थे। - स्कूल में हेराथ ओपनिंग बैटिंग और फास्ट बॉलिंग करते थे। लेकिन कम हाइट होने के कारण कोच ने स्पिन बॉलिंग की सलाह दी। - हेराथ ने 1996 में कुरुनेगाला यूथ क्लब ने पहला फर्स्ट क्लास मैच खेला। हेराथ प्रोफेशनल क्रिकेट करियर शुरू करने के पहले संपथ बैंक में क्लर्क का जॉब करते थे। - बैंक की नौकरी के दौरान ही उनकी मुलाकात पूर्व श्रीलंकाई ऑलराउंडर चंदिका हाथुरुसिंघा के भाई से हुई थी। उनकी मदद से हेराथ ने तीन साल बाद नेशनल टीम में जगह बना ली। - हेराथ ने 2011 में लंबे समय से पार्टनर रहीं सेनानी से शादी की। उनके दो बेटे हैं। - हेराथ को परिवार के साथ समय बिताना, किताबें पढ़ना पसंद है। उन्हें म्यूजियम और ऐतिहासिक जगहों पर घूमने का शौक भी है। lt;bgt;मुरलीधरन की वजह से नहीं मिले ज्यादा मौकेlt;/bgt; - हेराथ ने 1999 में अपने डेब्यू टेस्ट में 6 विकेट लिए थे। इसके बाद लंबे वक्त तक टीम से अंदर-बाहर होते रहे। डेब्यू के अगले नौ सालों में हेराथ को सिर्फ 14 टेस्ट खेलने का मौका ही मिल सका। - मुथैया मुरलीधरन की वजह से हेराथ को ज्यादा मौके नहीं मिल सके। इसके अलावा दूसरे स्पिनर अजंथा मेंडिस भी टीम में रहे थे। इन दोनों के टीम से जाने का बाद हेराथ को मौका मिला। - डेब्यू के दस साल बाद साल 2009 में हेराथ को एक बार फिर मौका मिला। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट में केवल 15 रन देकर 4 विकेट झटके। इसके अगले ही साल मुरलीधरन ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया। इसके बाद हेराथ ने टीम में अपना मुकाम बनाया। - हेराथ को शुरू में ज्यादा मौके नहीं मिले। शुरुआती 22 टेस्ट में 66 विकेट झटके। लेकिन देश के नंबर वन स्पिनर बनने के बाद अगले 51 टेस्ट में 231 विकेट ले लिए। - पिछले 6 साल में वे टीम के सबसे अहम प्लेयर बन गए हैं। 2016 में एंजेलो मैथ्यूज और चांडीमल के चोटिल होने के बाद टेस्ट टीम की कमान संभाल चुके हैं। lt;bgt;आगे की स्लाइड्स में देखें, रंगना हेराथ की पर्सनल लाइफ के फोटोज...lt;/bgt;