आध्यात्म

शरद पूर्णिमाः ये है भगवान श्रीकृष्ण की रासलीला का रहस्य

शरद पूर्णिमाः ये है भगवान श्रीकृष्ण की रासलीला का रहस्य

आश्विन मास की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा (5 अक्टूबर, गुरुवार) कहते हैं। यह पूर्णिमा वर्ष में आने वाली सभी पूर्णिमा से श्रेष्ठ मानी गई है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन चंद्रमा की किरणें अमृत रस के समान होती है। एक और बात जो शरद पूर्णिमा को और भी विशेष बनाती है वह है श्रीकृष्ण का वृंदावन की गोपियों के साथ किया गया महारास। ऐसी मान्यता है कि श्रीकृष्ण ने शरद पूर्णिमा की रात को ही रासलीला रचाई थी। lt;bgt;भगवान श्रीकृष्ण की रासलीला का रहस्य जानने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-lt;/bgt;

कमेंट