आध्यात्म

ये एक ग्रह अशुभ हो तो नहीं मिल पाता है मान-सम्मान

ये एक ग्रह अशुभ हो तो नहीं मिल पाता है मान-सम्मान

कुंडली में शुक्र ग्रह की स्थिति से धन-संपत्ति, ऐश्वर्य प्राप्त होता है। इन बातों का कारक शुक्र ग्रह है। इस ग्रह के बुरे या अशुभ फल से व्यक्ति को कलंक का सामना भी करना पड़ सकता है। अशुभ शुक्र के कारण समाज में बदनामी हो सकती है। सरकार और समाज में अपमानित होना पड़ सकता है। एक आम धारणा है कि शुक्र की महादशा में व्यक्ति को धन लाभ होता है, लेकिन ये सही नहीं है। शुक्र की महादशा में धन हानि, बदनामी के योग भी बन सकते हैं। यदि शुक्र कुंडली में अशुभ है तो शुक्र की महादशा बहुत भारी पड़ सकती है। यदि शुक्र दूसरे भाव में है, स्वग्रही है और लग्न भाव का स्वामी विपरीत है तो शुक्र की महादशा में व्यक्ति अपनी वाणी के कारण अपराधी हो सकता है। धन हानि होती है। यदि कुंडली में शुक्र अपने ही नक्षत्र में स्थित हो तो शुक्र के अशुभ परिणाम बदल सकते हैं। शुक्र बहुत रहस्यमयी ग्रह है। ये धन भी देता है और भोग विलास से व्यक्ति को बर्बाद भी कर सकता है। lt;bgt;- एस्ट्रोलॉजर डॉ. दीक्षा राठीlt;/bgt; drathi1124@gmail.com

कमेंट