आध्यात्म

आपका वैवाहिक जीवन कैसा रहेगा, इस तरीके से हो सकता है मालूम

आपका वैवाहिक जीवन कैसा रहेगा, इस तरीके से हो सकता है मालूम

कुंडली का सातवां यानी सप्तम भाव वैवाहिक जीवन की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण हो होता है। इस भाव से दैनिक रोजगार के बारे में भी मालूम हो सकता है। यहां जानिए इस भाव के आधार पर किसी व्यक्ति की शादी या जीवन साथी से जुड़ी खास बातें... अगर सप्तम स्थान में मंगल हो तो मांगलिक योग होता है, साथ ही इसकी वजह से घर में अशांति और नौकरी में समस्याएं आने का संकेत मिलता है। अगर इस भाव में बुध हो तो इस ग्रह का बल भी यहां खत्म हो जाता है। यहां राहु या केतु हो तो जीवन से साथी से वाद-विवाद होते रहते हैं। lt;bgt;- एस्ट्रोलॉजर डॉ. दीक्षा राठीlt;/bgt; lt;bgt;drathi1124@gmail.comlt;/bgt;

कमेंट