लाइफस्टाइल

छोटी छोटी तकलीफों से दुखी हैं तो मानिए हमारी सलाह और फिर से लौटिए प्रकति की और

छोटी छोटी तकलीफों से दुखी हैं तो मानिए हमारी सलाह और फिर से लौटिए प्रकति की और

हवा, पानी और मिट्टी। प्रकृति से मिले ये अनमोल तोहफे हमारे लिए वरदान हैं। बस ज़रुरत है ये समझने की और इन्हें अपने जीवन में शामिल करने की।

ये तो आप मानेंगे ही की लाइफस्टाइल डिजीज यानी डायबिटीज, कैंसर, हाइपरटेंशन, डिप्रेशन जैसी बीमारियाँ बढ़ी हैं। इसके अलावा आजकल बच्चों में मोटापा, स्ट्रेस, आँखों की कमजोरी भी बढ़ रही है। सोचिए यदि हमारी मॉडर्न लाइफस्टाइल हमारे बच्चों के लिए अभिशाप होगी तो इनका भविष्य क्या होगा? मोबाइल फोन हमारे लिए कितने खतरनाक हैं हम जानते हैं मगर क्या इसके बिना हम या आने वाली पीढ़ी रह पाएगी? ये असंभव सा ही लगता है, तो क्यों ना कुछ ऐसा करें जो कि संभव है। कुछ बदलाव छोटे छोटे से और आप पाएंगे खुद को भी बदला हुआ, खुश और स्वस्थ।

1. सुबह टहलने जाएं
सुबह की हवा में गहरी सांस लें। ये शुद्ध हवा आपके शरीर के हर सेल को ऑक्सीजन पहुंचाएगी जिससे आपके फेफड़े मज़बूत होंगे, हार्ट रेट कम होगा, ब्लड प्रेशर नार्मल होगा और नर्वस सिस्टम रिलैक्स होगा। इतने फायदे हैं सिर्फ सुबह की ताज़ी हवा के। सूरज की पहली किरणों से मिलने वाला विटामिन-डी आपकी हड्डियों को चुस्त बनाता है। ये सुबह की डोज दिनभर शरीर को होने वाले नुक्सान की भरपाई करती है। इसलिए हवा से दोस्ती करें। 

2. खूब पानी पिएं
पानी पीने के फायदे हम सब जानते हैं मगर शायद दिनभर की भागदौड़ में भूल जाते हैं। ख्ुाद को पानी से घिरा हुआ रखें, सुबह उठते ही एक गिलास पानी पिएं, नहाने से पहले फिर एक गिलास पानी पिएं। काम करते वक्त पानी की बोतल अपने पास रहने दें और घर पर हो तो हर कमरे में एक पानी की बोतल रहने दें। पानी हमारे शरीर से टोक्सिंस को हटाता है जो खून के साथ मिलकर बीमारियों को जन्म देते हैं।

3. भाप लें
भाप स्नान यानी स्टीम बाथ से शरीर की थकान मिट जाती है, कमजोरी दूर होती है क्योंकि शरीर से टोक्सिंस निकल जाते है और  शरीर हल्का और चुस्त हो जाता है। 
 
4. अपना मनपसंद खेल खेलें
यहाँ हम सिर्फ क्रिकेट या टेनिस की बात नहीं कर रहे हैं। संडे है तो बच्चों के साथ पार्क या फार्म हाउस जाएँ। जूते उतारें और नंगे पाँव घास पर चलें, दौडें और कुछ पुराने खेल जैसे पकड़म-पकड़ाई, खो-खो खेलें यानी मिट्टी से करें दोस्ती। आपमें से बहुत से लोग ये नहीं जानते होंगे की सुबह सुबह नंगे पाँव घास पर चलने से आँखों की रोशनी बढती है। इसके साथ ही और भी तरीके हैं मिट्टी से दोस्ती करने के। मिट्टी स्नान लें, ये आपको स्वस्थ तो करेगा ही, आपकी स्किन को ग्लो भी देगा। 

ये कुछ छोटी छोटी चीज़ें हैं जिन्हें अपने रूटीन में शामिल करना बहुत ही आसान है जिनसे हमारे शरीर को मिलती है रोगाणुओं से लड़ने की स्वभाविक शक्ति। प्रकृति आपकी दोस्त है, आप भी बढाएं प्रकृति की ओर दोस्ती का हाथ। 


Tags:

  • Nature,
  • precious gifts from nature Importance of Air,
  • water and soil,
  • Lifestyle,

कमेंट